2 Line Shayari

जो मुंह तक उड़ रही थी

Post Copied
Image Downloading... Download Image

जो मुंह तक उड़ रही थी अब लिपटी है पाँव से
बारिश क्या हुई मिटटी की फितरत बदल गई