Status On Sad Mood In Hindi - Sad Status About Life

Mood-off-status-in-hindi

दोस्तों स्वागत है आपका www.abshayari.guru में ,
दोस्तों ज़िंदगी में खुशियां कम परेशानियां ज्यादा होती हैं। कभी हम दुसरो की वजह से परेशान होते है तो कभी खुद की ज़िंदगी और किस्मत की वजह से। इस वक्त में इंसान अकेला रहना पसंद करता है और अपनी बातों को दुसरो के साथ बाँटना चाहता है। ताकि उसकी थोड़ी तख़लीफ़ कम हो जाय.आज कल दोस्तों सोशल मिडिया का जमाना है तो हर कोई अपने स्टेटस के जरिये ही अपनी फीलिंग्स को दूसरे तक पहुंचाता है ,इसलिए आज हम कुछ बेस्ट mood off status in hindi ,mood off status shayari,mood off shayari लायें हैं जिन्हे आप अपने व्हाट्सप्प और फेसबूक स्टेटस के लिए यूज़ कर सकते हैं।

अब हद हो रही है
बिना गलती के सजा मिल रही है
( MOOD OFF )
आज मूड ऑफ है
दुनिया ब्लैक एंड वाइट लग रही है
बिना गलती के
न जाने हर बार ऐसा ही क्यों होता है,
जो सबको ख़ुशी देता है आखिर में वही रोता है.
जख्म कहां-कहां से मिले छोड़ इन बातों को,
जिंदगी तू यह बता सफर कितना बाकी.
रुलाना छोड दे ऐ-ज़न्दगी तू हमे,
हम खफा हुए तो, एक दिन तुझे छोड़ देंगे।
पता है लाश पानी पर क्यों तैरती है?
क्योंकि डूबने के लिए ज़िंदगी चाहिए
mood-off
Mood-off-status
Mood-off-status
प्यार भी खत्म और
तेरे लिए ⏱वक्त भी खत्म
MOOD OFF HA YAAR
मिलने को तो हजार मिल जाए
पर तू साथ हो तो जीने की वजह
मिल जाए ! MOOD OFF
मुझको छोड़ने की बजह तो बता जाते,
तुम मुझसे बेज़ार थे या हम जैसे हज़ार थे।
MOOD OFF
वो छोड़ के गए हमें,
न जाने उनकी क्या मजबूरी थी,
खुदा ने कहा इसमें उनका कोई कसूर नहीं,
ये कहानी तो मैंने लिखी ही अधूरी थी..
MOOD OFF
गलती सुधारने का मौका तो उसी दिन से मिलना बंद हो गया था,
जिस दिन हाथ में पेंसिल की जगह पेन थमा दिया था।
MOOD OFF
भरोसा जितना कीमती होता है
धोखा उतना ही महँगा हो जाता है।
MOOD OFF
इतना दर्द तो मौत भी नही देती,
जितनी दर्द तेरी ख़ामोशी दे रही है।
क्या बात है, बड़े चुपचाप से बैठे हो.
कोई बात दिल पे लगी हैया दिल कही लगा बैठे हो…
वो छोड़ के गए हमें,
न जाने उनकी क्या मजबूरी थी,
खुदा ने कहा इसमें उनका कोई कसूर नहीं,
ये कहानी तो मैंने लिखी ही अधूरी थी..
आने वाला कल अच्छा होगा,
बस इसी सोच मे आज बीत जाता है..
सुना है काफी पढ़ लिख गए हो तुम…
कभी वो भी तो पढ़ो जो हम कह नहीं पाते..
उदास नज़रों में ख्वाब मिलेंगे,
कहीं काँटे तो कहीं गुलाब मिलेंगे
नजरे बिछाकर मै तुम्हें यूँ हीं देखती रहुँ,
जो दर्द छुपा रहे हो वो मै सहती रहुँ.
महफ़िल में गले मिल के वो धीरे से कह गए,
ये दुनिया की रस्म है
इसे मोहब्बत ना समझ लेना.
न जाने हर बार ऐसा ही क्यों होता है,
जो सबको ख़ुशी देता है आखिर में वही रोता है.
जो ढूंढ रहे थे हमें भुला देने का रास्ता,
हमने खफा होकर उनका काम आसान कर दिया।
जख्म कहां-कहां से मिले छोड़ इन बातों को,
जिंदगी तू यह बता सफर कितना बाकी.
रुलाना छोड दे ऐ-ज़न्दगी तू हमे,
हम खफा हुए तो, एक दिन तुझे छोड़ देंगे।
सब कुछ हासिल नहीं होता है ज़िंदगी में यहाँ ,
किसी का “काश ” तो किसी का “अगर ” रह ही जाता है।
कभी सोचा करता था कैसे रह पाऊँगा तेरे बिना,
देख तूने ये भी सिखा दिया मुझे।
जिंदगी में अक्सर ये होता है,
जो दूसरों के लिए रोता है,
आखिर में उसके लिए कोई नहीं रोता।
रातों में खूब बातें होतीं हैं खुद से,
कौन कहता है अकेला हूँ मैं.
Raato Me Khub Baate Hoti Hai Khud Se,
Kaun Kahata Hai Akela Hun Main.
जख्म खरीद लाया हूँ बाजार- ए- दर्द से,
दिल जिद कर रहा था मुझे मोहब्बत चाहिए
.Zakhm Kharid Laya Hun Baazaar-E-Dard Se
Dil Zid Kar Raha Tha Mujhe Mohabbat Chahiye.
शाम होते ही सज जाता है तेरी याद का बाजार,
बस इसी रौनक से हमारी सारी रात गुजर जाती है
Sham Hote Hi Saj JATI hai Teri Yaad Ka Baazaar,
Bas Isi Raunak Se Hamari Sari Raat Guzar Jati Hai
जाने कैसी नजर लगी ज़माने की ,
अब वजह मिलती नही मुस्कुराने की.
Janae Kaesi Nazar Lagi Zamane Ki,
Ab Wazah Milati Nahi Muskurane Ki.
तुम्हे क्या पता, किस दर्द मे हूँ मैं?
जो लिया नही, उस कर्ज मे हूँ मैं.
Tumhe Kya Pata Kis Dard Me Hun Mai?
Jo Liya Nahi Us Karz Me Hun Main.
उसे किस्मत समझ कर सीने से लगाया था,
भूल गए थे के किस्मत बदलते देर नहीं लगती.
Use Kisamat Samajh Kar Seene Se LAgaya Tha,
Bhul Gaye The Ke Kisamat Badalate Der Nahi Lagati.
अल्फ़ाज़ के कुछ तो कंकर फ़ेंको,
यहाँ झील सी गहरी ख़ामोशी है.
बड़ी हिम्मत दी उसकी जुदाई ने
ना अब किसी को खोने का दुःख
ना किसी को पाने की चाहत.
इतना कुछ हो रहा है..दुनिया में,
……क्या तुम मेरे नही हो सकते.
यहाँ लोग अपनी गलती नही मानते,
किसी और को अपना क्या मानेंगें।
न जाने हर बार ऐसा ही क्यों होता है,
जो सबको ख़ुशी देता है आखिर में वही रोता है.
कभी सोचा करता था कैसे रह पाऊँगा तेरे बिना,
देख तूने ये भी सिखा दिया मुझे।
मैं फिर से निकलूंगा तलाश -ए-जिन्दगी में,
दुआ करना दोस्तो इस बार किसी से इश्क ना हो.
कभी टूटकर बिखरो तो मेरे पास आ जाना,
मुझे अपने जैसे लोग बहुत पसंद है।
एक दिन वक्त भी साथ बैठकर रोया मेरे,
कहने लगा तू तो ठीक है बस मैं ही खराब हूं।
किसी दिन तुम्हारी याद ना आये तो,
मुझे मतलबी ना समझ लेना दोस्तों,
क्या करूँ इस छोटी से उम्र में परेशानी बहुत है.
एक दिन वह रो-रो कर कहने लगी,
मुझे तुमसे नफरत है,
लेकिन अगर उसको मुझसे नफरत थी,
तो वह रोई क्यों।
हैरान हूँ मैं तुम्हारी हसरतो पर,
तुमने सब कुछ माँगा मुझसे बस मुझे छोड़ कर.
रोज एक नयी तकलीफ,
रोज एक नया गम,
न जाने कब एलान होगा की मर गए है हम.
अगर तुम अजनबी थे तो लगे क्यों नहीं,
और अगर मेरे थे तो मुझे मिले क्यों नहीं।

हमने तो एक ही शख्स पर चाहत ख़त्म कर दी,
अब मोहब्ब्बत किसे कहते है मालूम नहीं।

तूझे मेरी मुस्कान अच्छी लगती थी☺
ले आज तूझे वो भी दे दी ?
बताओ तो कैसे निकलता है जनाज़ा उनका,
वो लोग जो अन्दर से मर जाते है !!
वो क्या करेगा लेके जमाने की राहतें
जिसको तुम्हारी याद में रोना पसंद है.
जहर देता हैं कोई कोई दवा देता हैं.
जो भी मिलता हैं मेरा दर्द बढ़ा देता हैं.
ये वो दौर है जहाँ,
हर मुलाकात में मकसद छुपे होते हैं.
वो रूह में उतर जाये तो पा ले मुझको…
इश्क़ के सौदे मैं जिस्म नहीं तौले जाते..!!
आत्महत्या कर ली गिरगिट ने,
और सुसाइड नोट में लिख डाला –
‘इंसान से जयादा में रंग नहीं बदल सकता’
वादो से बंधी जंजीर थी जो
तोड दी मैँने,
अब से जल्दी सोया करेँगेँ मोहब्बत छोड दी मैँने..
दिल जीतने का हुनर नहीं आता हमे,
वो बात अलग है के यहाँ दिल किसके पास है
दोस्ती तो बच्चे करते है साहब क्यूंकि,
बड़े तो समझोते और सौदेबज़ी करते है
मैं अकेले यूँ ही मजे में था
मुझे आप किसलिए मिल गए.
मुकर जाने का कातिल ने निराला ढंग निकाला है,
हरेक से पूछता है की उसको किसने मार डाला है !!
किसी का दिल जीतने के लिए,
उसके पास दिल भी होना चाहिए
जिंदा है तो बस तेरी इश्क की रहमत पर,
हम मर गये तो समझना तेरा प्यार कम पड गया.
कौन से लफ्ज़ में मैं दर्द की सदा लिखूं
किस तरह मैं अपने ही दिल को बेवफा लिखूं
किस्मत के तराज़ू में तोलो,तो फ़कीर हैं
हम और दर्द-ए-दिल में, हम सा कोई नहीं.
किन लफ़्ज़ों में बंया करूँ दर्द-ए-दिल को मैं,
सुनने वाले तो बहुत हैं, समझने वाला कोई नही.
दर्द-ए-दिल को ताब आ जाए
जिसमे तुम हो काश कहीं से वो ख़्वाब आ जाए.
अभी से क्यों छलक आये तुम्हारी आँख में आंसू.
अभी तो छेड़ी ही कहा हे दर्द-ए-दिल की दास्तान हमने
ना सिगरेट 🚬 को छुआ कभी, ना किया कोई नशा 😤 कभी,
ना आदत शराब 😀 की जाने कैसे पड़ गई हमें लत जनाब की….!
आरजू क्यों करूं, कि तुम मुझे चाहोगे उम्र भर…😘😍
इतना ऐतबार ही काफी है, कि मुझे भूल नहीं पाओगे उम्र भर…!😎😎
मैं यह नहीं कहता मेरा झुका सर मिलेगा तुम्हें..😣
पर सुनिए, जनाब मेरी आंखों में आप का डर ना मिलेगा तुम्हें…!
मुझे सिर्फ इतना बता दो इंतज़ार करू
तुम्हारा या बदल जाऊ तुम्हारी तरह…
हालात चाहे कितने भी बदल जाए
पर तुम मत बदलना कभी
शायद कोई तो कर रहा है मेरी कमी पूरी
तब ही तो मेरी याद तुम्हे अब नहीं आती
जरूरी नहीं कि सारे सबक किताबों से ही सीखे
कुछ सबक जिन्दगी और रिश्ते सिखा देते हैं।
कैसे मोहब्बत करूं बहुत गरीब हूँ साहब,,
लोग बिकते हैं और मैं खरीद नहीं पाता।।
बहुत थक सा गया हुँ खुद को साबित करते करते,
मेरे तरीके गलत हो सकते है, मगर मेरी मोहब्बत नहीं…
कर देना माफ़, अगर दुखाया हो दिल तुम्हारा…
क्या पता कफ़न में लिपटा मिले, कल ये यार तुम्हारा….!!

उम्मीद करते है के आपको हमारे लव स्टेटस पसंद आये होंगे और आप इसे जरूर शेयर करोगे |
Thanks For Visiting Unlimited – Love Status in Hindi