Festival Special Shayari

हम को था इंतज़ार वो घडी आ गयी

Post Copied

हम को था इंतज़ार वो घडी आ गयी,
होकर सिंह पर सवार माता रानी आ गयी
होगी अब मन की हर मुराद पूरी,
हरने अब सारे दुःख माता द्वार आ गयी